Ujjain

Hindu Mythology says that Ujjain was blessed with the nectar drops that fell when the devas and the asuras fought a fierce battle to gain possession of the nectar got from the churning of the ocean. Thus Ujjain and River Shipra that flows beside it are considered holy and a very important place of pilgrimage for Hindus. Situated in the Malwa plateau of Madhya Pradesh, Ujjain is also the holy land of Lord Makakaleshwar. There are numerous holy sites in the city including Mahakaleshwar Temple, Bade Ganeshji Ka Mandir and Bhartrihari Caves. Of historical interest are Durgadas Cenotaph and Kaliadeh Palace (built in Persian architectural style). This religious city is also a learning centre for the ancient language Sanskrit and for Astrology. Ujjain is accessible by railways and well built highways with other parts of the country, while the nearest airport is at Indore.
Best Time to Visit: November to March
Languages Spoken: Hindi
Climate: Hot summers, average monsoon, pleasant winters
Holy places: Mahakaleshwar Temple, Bade Ganeshji Ka Mandir, Bhartrihari Caves
Heritage sites: Durgadas Cenotaph, Kaliadeh Palace

Ujjain Darshan-2 / उज्जैन दर्शन-2

By

मोक्षदायिनी शिप्रा (क्षिप्रा) नदी: श्री हरसिद्धि मंदिर के पीछे कुछ ही दुरी पर क्षिप्रा नदी है. उज्जैन इस पवित्र नदी के पूर्वी छोर पर बसा हुआ है. इसके तट पर अनेक ऋषि मुनियों ने साधना की है. स्कन्द पूरण में कहा गया है की सारे भूमंडल पर शिप्रा के सामान कोई दूसरी नदी नहीं है, जिसके तट पर क्षण भर खड़े रह जाने मात्र से ही मुक्ति मिल जाती है. इसके पावन तट पर महँ सिंहस्थ (कुम्भ मेला) के अलावा सोमवती -श्रीशनिश्चरी अमावस्या, कार्तिक पूर्णिमा व ग्रहण आदि पर्वों पर लाखों नर नारी स्नान करके पुण्य लाभ प्राप्त करते हैं. क्षिप्रा महासभा द्वारा प्रतिदिन गोधुली बेला में क्षिप्रा की महा आरती की जाती है.

Read More

Ujjain Darshan-1 / उज्जैन दर्शन – 1

By

उज्जैन के प्रमुख दर्शनीय स्थल निम्नानुसार हैं –
श्री महाकालेश्वर मंदिर, श्री बड़े गणेश मंदिर, श्री हरसिद्धि मंदिर, श्री चारधाम मंदिर, श्री नवगृह मंदिर, श्री प्रशांति धाम, श्री राम जनार्दन मंदिर, श्री गोपाल मंदिर, श्री गढ़ कालिका मंदिर, श्री चिंतामन गणेश, श्री काल भैरव, श्री भ्रतहरी गुफा, श्री सिद्धवट, श्री मंगलनाथ मंदिर, श्री संदीपनी आश्रम, वेधशाला, श्री चौबीस खम्भा मंदिर, शिप्रा नदी, कलियादेह पेलेस एवं इस्कोन मंदिर.

चूँकि हमारे पास समय की कमी होने की वजह से हम यह सारे मंदिर तो नहीं देख पाए लेकिन इनमें से अधिकतर स्थलों का अवलोकन करने का सौभाग्य हमें प्राप्त हुआ जिनका वर्णन करना मैं आवश्यक समझता हूँ.

Read More
Shivling

Mahakaleshwar Ujjain / उज्जैन – महाकाल की महिमा

By

श्री महाकालेश्वर मंदिर संस्थान द्वारा संचालित अतिथि विश्राम गृह में फ़ोन द्वारा संपर्क किया (0734 -2551714) तो पता चला की वहां कोई कमरा खाली नहीं है. कुछ देर की मशक्कत के बाद अंततः हमने अपने रहने के लिए मंदिर के एकदम नजदीक ही स्थित एक प्राइवेट गेस्ट हाउस में एक कमरा दो दिनों के लिए बुक करा लिया. कमरा लेने के बाद हमने हाथ मुंह धोकर थोड़ी देर आराम किया तथा भोजन की तलाश में निकल गए. महाकाल मंदिर के मुख्य द्वार के सामने वाली वाली गली में कुछ भोजनालय हैं जहाँ खाना उपलब्ध है लेकिन खाने में निराशा ही हाथ लगी, खाना स्तरीय नहीं था.

Read More

Dewas / देवास – जहाँ देवों का वास है

By

अपनी कार को मंदिर के बगल में स्थित पार्किंग ज़ोन में पार्क करके हम मंदिर में प्रवेश कर गए. यह मंदिर एक बड़े परिसर में स्थित है. मंदिर ज्यादा पुराना नहीं है तथा दक्षिण भारतीय शैली में निर्मित है. इस मंदिर का मुख्या आकर्षण यहाँ पर स्थित भगवान हनुमान की विशालकाय प्रतिमा है. परिसर में कैला माता के अति सुन्दर मंदिर के अलावा भगवान शिव का एक अति सुन्दर मंदिर तथा शनि नवगृह मंदिर भी है.

Read More

उज्जैन यात्रा

By

फिर अगले दिन हमने उज्जैन दर्शन किया महाकाल एरिया के पास आपको बहुत से ड्राइवर अपना कार्ड देंगे जिसमे घूमने की जगहों के नाम होंगे आप उसमे खुद अपनी इच्छा से नाम जोड़ और हटा सकते हैं हमारा ड्राइवर जो खुद एक मुस्लिम था पर उसकी भक्ति और ज्ञान देखकर हम बहुत प्रभाभित हुए, उसने हमें एक एक जगह का महत्व बताया और अच्छे से दर्शन करवाये, आप यदि उसका नंबर चाहते हैं तो नोट कर लीजिये नाम : ज़ाकिर ०८३४९८२५२०७ और गाड़ी थी मारुती वैन I

हमने शुरुआत की श्री रामकृष्ण आश्रम उज्जैन से जो की मानव सेवा में लगा हुआ है यहाँ पर एक सुंदर फिजियोथेरेपी क्लिनिक है जो गरीबो की सेवा करती है, हमने आश्रम की सुंदरता निहारते हुए जप किया और मंदिर के दर्शन किये I आश्रम में दान दिया और प्रसाद ग्रहण किया

Read More
A day at Mahakal Nagri Ujjain

A day at Mahakal Nagri Ujjain

By

Our work got over at 1800 hrs and we were ready to go back to Indore. While returning from Kothi we got down at Freeganj Tower just to roam around the city. First we went to Chote Gopal mandir which was just in the vicinity of Freeganj Tower. The freeganj which was a busy town circle in the afternoon has transformed into a superb eatery zone. Right from Paani puri to Chaat to Chhole tikki to Vada pav to Hot dog to Chinese to South Indian to Juice corner to fruit zone to Icecream corner.

Read More