हेरिटेज मेला

मेला सारी दुनिया में एक जैसा ही पॉपुलर है.  भारत में तो लगभग सारा साल कहीं न कहीं मेला रहता है. पर यहाँ कैनेडा में भी लोग चाव से मेले का इंतजार करते हैं. 2012  अगस्त 4, 5, 6 को यह हेरिटेज मेला लगा था  मैं सुबह सवेरे त्यार  हो कर फोर्ट सस्केत्च्वान से एडमंटन के लिए यात्रा शुरू करता हूँ. कार में ४० किमी और  बस स्टैंड की पार्किंग में कार पार्क करने के बाद सिटी बस में सवार हो जाता हूँ. एक टिकेट ३ डालर का है और यह बस हेरिटेज मेला के लिए जा रही है. बस में जैसे ही ३० सवारी बैठी बस चल पड़ती है. बस की एक लम्बी लाइन सवारी का इंतजार कर रही है, कोई धक्का मुक्की नहीं है, मेला एरिया में कार पार्किंग एक कठिन काम है इस लिए बस में जाना आराम दायक है.

Buses waiting for Passengers

Inside bus

मेला क्षेत्र काफी सुंदर लग रहा है. एक छोटी सी झील उस में फवारे चल रहे हैं. संसार के काफी मुल्कों के स्टाल लगे हुए हैं. हर देश की चीजें और खाने पीने का समान बिक रहा  है. सारे संसार की झांकी जहाँ पर देखी जा सकती  है यह दो पुरुष पुरातन सेनेकों की वेशभूषा में है. एक इस्त्री भी प्राचीन लिबास में है लोग इनके साथ फोटो खिंचवा सकते हैं . यह खुशी खुशी सब के साथ फोटो खिंचवा रहे  हैं.

Ancient soldiers

यह स्टाल इरान के लोगों का है, गेट पर यह महोदय पारम्परिक लिबास में खड़े हैं. अंदर इरान के कालीन और शिल्प कला की चीजें बिक्री के लिए रखी हैं. कालीन के ऊपर काफी आकर्षक डिजाईन बने हैं , काफी लोग इसको पसंद कर रहें हैं .

Iran Stall

इस फोटो में आप कैनेडा  के मूल बाशिंदों को देख सकते हैं, यह इनका पारम्परिक घर है. कुछ लकड़ी के डंडे खड़े किये और उसके इर्दगिर्द एक कपड़ा लपेटा और घर त्यार. यह अपने आप को नेटिव या ऐबओर्जिनल कहलाना पसंद करते हैं. सब से पहले यह लोग ही कैनेडा आये थे.

Canadian Native couple

Ghana Stall

इस स्टाल पर घाना का नाच चल रहा है, यह जोड़ी देख कर नहीं लगता नाचना इनके बस का है शायद गीत संगीत बजा कर लोगों का मनोरंजन कर रहे हैं, नीचे वाली फोटो में मार्शल आर्ट दिखाया जा रहा है, काफी बहादुरी से मुकाबला चल रहा है,  यह लेडी आसानी से पुरुष को पटक देती है.

Marshall Art

stage performance  Italy

Russian  stage performance

यह रशिया की स्टेज है, यह नाच का कौन सा स्टेप है, काफी प्रेक्टिस के बाद ही इसे किया जा सकता है, रशिया के लोगों को काफी महारत हासिल है  पर बाद में दूसरे नर्तक दल ने आसान न्रत्य पेश किया काफी अच्छा लग रहा है .

Russian  dancer couple

जी हाँ यह मेम कोल्ड ड्रिंक और काफी बेच रही हैं, आप इनकी पर्सनलिटी देख सकते हैं, जर्मनी मूल की हैं, कैनेडा से बाहर जा कर खरीददारी करने पर कुछ मिस्सिंग लगता हैं, इनका सामान बेचेने का सलीका भी अत्यंत प्रोफेसनल है, एक बार ग्राहक आया तो कुछ ना कुछ खरीद कर ही जायेगा.

Food Stall Germany

Band from Korea

कोरिया और हांगकांग के नर्तक अपना कमाल दिखा रहे हैं, ढोल हर नाच में होता है बस शेप बदल जाती है, अनोखी बात है हर नर्तक का अपना ढोल है, हमारे पंजाब में तो एक ही ढोल होता है और वह नर्तक और दर्शक सभी का भांगड़ा डलवा देता है. पर इस दल के पास सब का अपना अलग ढोल है. ढोल अलग अलग शेप में हर जगह पाए जाते हैं, पर खूबसूरत लगते हैं.

Hong Kong Dance Group

Foot massage Thailand

यह स्टाल थाईलैंड का है. थाईलैंड का मसाज बहुत मशहूर है जहाँ पर फूट मसाज किया जा रहा है. देखने पर तो कोई खास नहीं लग रहा, भारत में बार्बर जो चम्पी करते हैं वह कहीं वेहतर  लगता है, पर शायद चम्पी को मार्केटिंग की जरुरत है, और एक बार मशहूर हो गया तो काफी टूरिस्ट आ सकते हैं. यह मेडम तरबूज को चक्कू से कई तरह के डिजाईन दे रहीं हैं, और भी कई फल ख़ूबसूरती से काट कर रखे हैं.  कला की हर जगह कदर है.

Fruit decoration Thailand

Wooden Shoes Netherland

यह वूडन शूज का स्टाल है, ओरिज्नली नीदरलैंड का है, आप इन वूडन शूज को पहन भी सकते हैं या सजावट के तोर पर घर में रख सकते हैं, मुझे यह बात घुमक्कड़.कॉम पर ही पता लगी थी. घुमक्कड़.कॉम काफी ज्ञान वर्धक साईट है.

Hindi main bole to  Wooden  Najarbattu

Long queue on Indian food Stall

जी हाँ यह भारत के फ़ूड का स्टाल है, आप इन गोरे लोगों की लंबी लाइन देख सकते है, मेरा नंबर कब आएगा. काफी देर तक इंतज़ार के बाद मैं भी लाइन मैं लग जाता हूँ और आप देख सकते है यह चावल छोले और निम्बू पानी, कीमत लगभग भारतीय ५५० रूपये, क्या कैनेडा में रहना भारत से अच्छा है.

chane chawal and nimbu Paani

Dance on Hindi song

Dance on Hindi song

यह भारत की स्टेज है. यह मेला तीन दिन चलता है, कलाकार अपनी प्रोर्मेंस देते रहते हैं, स्पीकर पर भारतीय गाने बजते हैं और डांस चलता रहता है. और मेरा तो सबसे पसंदीदा गीत है “ मेड इन इंडिया” बस इक दिल चाहिए मेड इन इंडिया.   अभी तो मेले का एक छोटा हिस्सा ही देखा है, अगले साल आपको कुछ और देशों के स्टाल पर ले कर चलूँगा, तब तक सब भाई बहन को राम राम

Bhangra Dance

Foreigner’s tried Indian Dance

Every one can dance in Indian Style

25 Comments

  • Mukesh Bhalse says:

    ????? ?? ????? ????? ??? ??????? ?? ????? ????? ???? ??? ??? ??? ?? ??? ???? ??? ???? ?????? ?? ????? ??? ????? ?? ??????? ???? ???, ??? ??? ??? ???? ?? ??? ?? ?? ????????? ??? ?????? ?? ????? ?? ???? ????? ??? ?? ?? ??? ???? ???? ?????? ????? ??? ?? ???? ????, ?? ????? ??? ???? ???? ??? ?? ??? ????? ?? ?????? ?? ????? ? ??? ?? ???? ??? ?? …………….. ?? ?? ??????
    ????????? ?? ???? ????? ??? ???? ?? ?????? ?? ????? ?????, ?? ??? ?? ???????? ?? ??????? ??????? ?? ?????? ???? ???? …………… ??????? ?? ?????? ???? ??? ?? ???????? ?? ??????? ??????

    • Surinder Sharma says:

      ????? ??,
      ????? ???? ???? ?? ???? ???? ???????, ?????? ?? ????? ?? ?? ??? ??? ?? ??? ?????? ???? ??, ?? ??? ??? ?? ?? ???? ?? ?? ?? ???? ??? ????? ?? ?? ??????? ?? ?????? ???? ???? ??? ?????? ??, ?? ?? ???? ?? ???? ?? ??????? ?? ?? ???? ?????, ????? ???? ?? ???? ??? ??????? ?? ????? ????, ???? ???? ??? ??? ?

  • ??????? ???????? ??

    ????????? ?? ??? ????? ?? ????? ??? . ????? ?? ???? ????? ?? , ??? ? ??? ????? . ??????? ???? ???? ????? ?? . ??? ??? ???????? ?? ???? ??? ????? ????? ?? .

    ?? ???? ?? ?????? ????? ?? ??? ???????

  • rastogi says:

    dear Mr. surender
    ?? ???? ??? ??? ???????? ?? ???? ??? ????? ?? ????? ???? ??????? ?? ????? ???? ???? ?? ???? ???? ???? ?? ????? ??? ???? ???????

    • Surinder Sharma says:

      ??????? ??,

      ?? ?? ????? ?? ????? ????? ?? ??? ??????? ???? ??, ????? ??? ???? ?? ????? ??? ????? ???? ???? ??, ?? ???? ????? ????? ????? ?? ????? ??????, ????? ???? ???? ?? ???? ???? ???????.

  • Biswajit Ganguly says:

    Dear Surenderji,
    thanks for introducing to the cultural traditions of different societies of the world. If you really see this entire post with wider perspective you will find in spite of the language and cultural barriers the concept of Vasudeva Kuttumbkam is visible in most of the photographs. We are one is something that I could see through this beautiful picturisation. Of course the vibrancy of colours of Vibrant India is more apparent and being Indian we do look at it with bit of bias (let me be honest). Ofcourse the number of visitors does support the fact that India is one of the most versatile and sought after country and the world do look at us with lots of hope …… thanks once again for all the efforts

    • Surinder Sharma says:

      Dear Biswajit,

      We Indian have a great culture and we have to be proud on it. As Kumbh mela is biggest in world and I do not think anybody can give exact answer when it was started.

      The Edmonton Heritage Festival has been organized by the Edmonton Heritage Festival Association since 1976, eleven cultural communities combined their resources to hold a one-day display of their traditional dances, foods, and crafts. Now it is three days celebration. So many time it aired on Discovery Channel.

      Thanks a lot for your appriciation.

  • Praveen Wadhwa says:

    Wow! Surinder Saab. Awesome post on this awesome mela.
    It is sheer joy to be in such a gala.
    Thanks for sharing.

    • Surinder Sharma says:

      Dear Praveen ji,

      Your posts are so good. This post is only encourging that there are some places beyond Vancouver. Thanks a lot for your kind words.

  • D.L.Narayan says:

    Thanks, Surinder, for taking us to the Heritage Festival. It is a lovely occasion for the immigrant communities of Canada to showcase the culture of their home countries. Gratifying to see that the Indian stalls attracted a lot of attention. Reminded me of my days in Kuwait where we would have such melas every year and there were separate stalls for the various states of India. It was a truly amazing experience.

  • Surinder Sharma says:

    D.L. ,

    All the Indian states which you left in Kuwait are here in Edmonton. But only one stall is allowed as India. Reason more than 185 countries people reside in Canada and it is hard to give represetation to all countries. But on stage groups from our every state from India present their performances.

    In India we have great resources i.e. our Population, Natural resources , Culture but we need certificaiton from west. Thanks a lot for your valuable comment.

  • Amitava Chatterjee says:

    Hi Surinder, very nice post.
    Yes, fairs are fairs and every fair has its own charm and attraction.

    I still love to be there at my village during ‘Rath-er mela” (Rath Yatra) or “Jhulan Mela” (during Janmastami) or various other melas i.e. fairs.

    In rural bengal, we celebrate ‘Ghosto’ for the entire month of Baisakh, starting from Paila Baisakh (14/15 th of April) and we were eagerly waiting for that period, as recreation things were very very limited and I miss all of them. Thank you once again for such lovely post. Keep writing.

  • Surinder Sharma says:

    Dear Amitava,

    Bengal Culture is so rich. “Rath-er mela (Rath Yatra) or Jhulan Mela and above all “Durga Pooja”. We also have Rath yatra, Janam Ashtami and Navratri here but it is just little celebration. Thanks a lot for your encoureging words.

  • Nirdesh says:

    Hi Surinderji,

    Nice post and photos!

    Only time I have done Garba dance in my life was in Wisconsin!

    Brings back memories.

  • Surinder Sharma says:

    Thanks a lot for appriciation. In US you may realize that you know Garba and tried, but back home lot of perfect dancer and we shy to perform with them. Garba is world famous and I still remember when I celebrated Navaratri in Ahmedabad and it was amazing.

  • Nandan Jha says:

    ??????? ??, ?????? ?????? ????? ??? ? ???? ??? ???? ?? ??? ?? ??? ?? ???? ?

    ??? ???? ???? ?? ?? ???? ??? (45 ?????? ???) ?? ???? ????? ????? ?? :-) ?? ?? ?

  • SilentSoul says:

    surinder ji Lajwaab post hai…. all new and unique. Quite happy to see Indians also participating in the festival.

    tks for sharing…. aur likho ..we are waiting

  • ???????? ????? ??,

    ???? ??? ???? ?? ?? ?????, ?? ???? ?? ???????? ???? ??? ??????? ??? ????? ???? ??, ?? ?? ?? ????? ?????? ?? ???? ?? ?? ??-?? ???? ??? ???????? ???? ???? ??? ?? ???? ?? ??? ??? ??? ???????? ???? ?? ???? ?????? ?? ????? ???? ???? ??? ??? ?????? ??? ???? ??????? ???? ? ??? ?? ??? ? ??? ???? ????? ?? ?? ?? ?? ?? ????? ????? !

    ??????? ?????

    • Surinder Sharma says:

      Thanks Sushant Singhal ji, your writing so good, I always wait for it. It will great if you apply for passport and trip to UK, May June is best time to skip from Saharanpur. You will see customer service. different way of living and above all how 50 plus people live with diginity.
      Regards

  • Abheeruchi says:

    Apki post bahut acchi lagi.Maine same type ke mela ke pics Canada Kitchener ke dekhe the. Apki post me dusri baar is tarah ki cheej dekhne ko mili.

    Hopefully in near future hum bhi aisa kuch real me dekh paye.

    Wish you and your family a very happy and prosperous new year.

    Keep travelling,keep writing

  • Surinder Sharma says:

    Happy New Year, Thanks for comment.

    Regards

  • Sangam Mishra says:

    Dear Surinder jee,

    your story is very nice. thanks for sharing with us to know that our culture is so famous in others country.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *